04 August, 2015

Pyar Ki Koi Hadd - प्यार की कोई

Pyar Ki Koi Hadd - प्यार की कोई  - Love Shayari in Hindi
प्यार की कोई हद समझना, मेरे बस की बात नहीं,
दिल की बातों को न करना, मेरे बस की बात नहीं,
कुछ तो बात है तुझमें तब तो दिल ये तुमपे मरता है,
वरना यूँ ही जान गँवाना, मेरे बस की बात नहीं..।।

6 comments:

  1. Such a nice love shayari............. pyaar ki koi hadd samjhna...

    You may also like this one:-

    Nasha mohabbat ka ho ya sharab ka,
    Hosh dono mei kho jata hai,
    Fark sirf itna hai,
    Sharab sula deti hai,
    Mohabbat rula deti hai.

    ReplyDelete
    Replies
    1. NASA mohabbat ka wo rang hai, Jo har feza me Mel jata hai, na chahte huve v hamko tadpata hai, ho ketne he ouchi manzil, ya ho ketna he gahra samander, pal par kr jata hai

      Delete
  2. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://www.guruofmovie.com

    ReplyDelete