Love Shayari

love hindi shayari collection
उल्फत की जंजीर से डर लगता हैं,
कुछ अपनी ही तकदीर से डर लगता हैं,
जो जुदा करते हैं, किसी को किसी से,
हाथ की बस उसी लकीर से डर लगता हैं.


मोह्ब्बत किसी ऐसे सख्स की तलाश नही करती
...जिसके साथ रहा जाये,
मोह्ब्बत तो ऐसे सख्स की तलाश करती हे
..जिसके बगेर रहा न जाये!!


ना जाने मुहब्बत में कितने अफसाने बन जाते है
शमां जिसको भी जलाती है वो परवाने बन जाते है
कुछ हासिल करना ही इश्क कि मंजिल नही होती
किसी को खोकर भी कुछ लोग दिवाने बन जाते है ..!!!





ढूँढता हूं मैं जब अपनी ही खामोशी को,
मुझे कुछ काम नहीं दुनिया की बातों से,
आसमाँ दे न सका चाँद अपने दामन का,
माँगती रह गई धरती कई रातों से..।।