10 May, 2021

भूल गए अपने - Sad Shayari

कुछ हार गई तक़दीर, 
कुछ टूट गए सपने,
कुछ गैरों ने किया बर्बाद, 
कुछ भूल गए अपने..!!

1 comments: