Skip to main content

Featured

Uski Masrufiyat Mera Intzaar

सब उसकी., मसरूफियत में शामिल हैं...!! बस एक ., मुझ  बे-ज़रूरी के सिवा.....!! #Uski Masrufiyat 

दिखाने को घाव नही - Dikhane ko ghaw nhi

कहने को शब्द नहीं...
लिखने को भाव नहीं,
दर्द तो हो रहा है पर..
दिखाने को घाव नहीं,

Comments

Popular Posts