04 August, 2020

किसी काम के न रहे - Kisi kam ke na rhe

क्या इत्तेफाक था, तेरी गली में आने का
किसी काम से आए थे, किसी काम के न रहे...

0 comments

Post a Comment