तुम्हारी चाहत - Tumhari Chahat

बहते पानी की तरह हैं तुम्हारी चाहत 
रुकती नही थमती नहीं,,
थकती नहीं
और सबसे बड़ी बात ,
मिलती नहीँ,,,

Comments

Popular Posts