02 March, 2019

कर्ज मेरी चाहत का

Chahat Hindi Shayari

कर्ज मेरी चाहत का ...
कुछ इस कदर अदा कर दो....
मुझ में समा के तुम....
मुझको मुझसे रिहा कर दो...

0 comments

Post a Comment