26 November, 2018

हवा में यूँ - Love Sad Shayari

हवा में यूँ - Sad Shayari in Love
हवा में यूँ ही मैं सिक्का उछाल देता हूँ,
जवाब दे दो मुझे, तुम्हें इक सवाल देता हूँ ,
गमों का मारा हुआ दर्द में मिला जो कुछ,
उन्हें पिरो के ही कविता निकाल देता हूँ

0 comments

Post a Comment