11 September, 2018

हिन्दी दिवस पर बधाई सन्देश - Hindi Diwas Wishes

Hindi Diwas Wishes and Messages

14 सितंबर, 1949 के दिन हिंदी को राजभाषा का दर्जा मिला था। तब से हर साल यह दिन हिंदी दिवस के तौर पर मनाया जाता है। हिन्दी भाषा का दुनियाँ प्रचार-प्रसार करने के लिए इस दिन को मनाते है। इसी विशेष दिन पर हमारी और से आपके लिए हिन्दी भाषा मे लिखे कुछ संदेश, शायरी और नारे:

हिन्दी की बिन्दी को
मस्तक पे सजा के रखना है
सर आँखो पे बिठाएँगे
यह भारत माँ का गहना है
हिन्दी को आगे बढ़ाना है
उन्नति की राह ले जाना है
केवल इक दिन ही नहीं हमने
नित हिन्दी दिवस मनाना है
हिन्दी है हमारी मातृ भाषा
हिन्दी है हमें बड़ी प्यारी
हिन्दी की सुरीली वाणी
हमें लगे हर पल प्यारी
हमारी हो गयी यह मानसिकता,
अन्य भाषाओं को दे रहें प्राथमिकता।
यदि कोई करता है हिंदी में संवाद,
उसे समझा जाता है अपवाद।
हाथ में तुम्हारे देश की शान
हिन्दी अपनाकर तुम बनो महान
हिन्दी और हिन्दुस्तान हमारा हैं
और हम इसकी शान हैं
दिल हमारा एक हैं
और एक हमारी जान हैं
हिन्दी है भारत की आशा
हिन्दी है भारत की भाषा.
अंग्रेजी पढ़ि के जदपि,
सब गुन होत प्रवीन
पर निज भाषा-ज्ञान बिन,
रहत हीन के हीन
निज भाषा उन्नति अहै,
सब उन्नति को मूल
बिन निज भाषा-ज्ञान के,
मिटत न हिय को सूल
हर भारतीय की शक्ति है हिन्दी
एक सहज अभिव्यक्ति है हिन्दी.
हिन्दी है हमारी मातृ भाषा
हिन्दी है हमें बड़ी प्यारी
हिन्दी की सुरीली वाणी
हमें लगे हर पल प्यारी
जब तक हिन्दी नहीं बनेगी,
गरीबों की शक्ति
तब तक देश को नहीं मिलेगी,
गरीबी से मुक्ति.
हिन्दी ने देश को जोड़े रखा है
हमारे मतभेदों को तोड़े रखा है.
हर दिन नया विहान है हिन्दी
मेरे हिन्द की प्राण है हिन्दी.
निज भाषा का जो नहीं करते सम्मान
वे कहीं नहीं पाते हैं सम्मान.
हमारी स्वतंत्रता कहाँ है, राष्ट्रभाषा जहाँ है
हिन्दी का सम्मान, देश का सम्मान है
हिन्दी हम अपनाएंगे.
राष्ट्र की शान बढ़ाएंगे.
निज भाषा का नहीं गर्व जिसे
क्या प्रेम देश से होगा उसे
वही वीर देश का प्यारा है
हिन्दी ही जिसका नारा है
भारत का वजूद है हिन्दी
हर भारतीय के दिल में मौजूद है हिन्दी.
हिन्दी दिवस अवसर पर आओ हिन्दी पढ़े और पढ़ाएँ
हिन्दी है हमारी भाषा आओ इसे अपनाएँ


हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं


हिन्दी दिवस पर नारे – Hindi Diwas Slogans for Children in Hindi
  • हिंदी भाषा का अपना महत्त्व, इसमें है अपनत्व।
  • हमारे देश की पहचान, हिंदी भाषा पर है अभिमान।
  • हिन्दी का पतन भारत का पतन है.
  • हिन्दी से हिंदुस्तान हैं, तभी तो हिन्दी देश की शान हैं।
  • हिन्दी सिखे बिना भारतीयो के दिलो तक नही पहुँचा जा सकता।
  • हिन्दी शताब्दियोसे राष्ट्रिय एकता का माध्यम रही है।
  • हिन्दी मै काम करना आसन है शुरू तो किजीये।
  • हिन्दी में पत्राचार हो हिन्दी में हर व्यवहार हो, बोलचाल में हिन्दी ही अभिव्यक्ती का आधार हो।
  • देश वासियों से यह प्रार्थना, हिंदी भाषा की करें सराहना।
  • हिन्दी की दौड किसी प्रांतीय भाषासे नहीं अंग्रेजी से है।
  • हिन्दी का सन्मान, देश का सन्मान है।
  • हात में अपने देश की शान, हिन्दी अपनाकर तुम बनो महान।
  • हमारी स्वतंत्रता कहाँ है, राष्ट्रभाषा जहाँ है।
  • सीखो जी भर भाषा अनेक, पर राष्ट्रभाषा न भूलों एक।
  • राष्ट्रभाषा सर्वसाधारण के लिये जरुरी है और हमारी राष्ट्रभाषा हिन्दी ही बन सकती है।
  • राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूंगा है।
  • सूचना एवं ख़बरों का माध्यम, हिंदी द्वारा हुआ सरलतम।
  • विचारों को व्यक्त करें, हिंदी में संवाद करें।
  • प्रांतीय ईर्ष्या द्वेष दूर करने में जितनी सहायता हिन्दी प्रचार से मिलेगी उतनी दूसरी चीज में नहीं।
  • जबतक आपके पास राष्ट्रभाषा नही, आपका कोई राष्ट्र भी नही।
  • जन-जन की आशा हैं हिन्दी, भारत की भाषा हैं हिन्दी।
  • शुद्ध हिंदी का करें उपयोग, भारतीयता की उच्च सोच।
  • भारत का बढ़ेगा मान, जब देशवासी करेंगे हिंदी का सम्मान।
  • हिंदी भाषा पर दें जोर, बढ़ें व्यक्तित्व विकास की ओर।
  • एकता की जान है, हिन्दी देश की शान है।
  • आइये एकसाथ बढीये हिन्दी को अपनाइये।
  • हम सब का अभिमान हैं हिन्दी, भारत देश की शान हैं हिन्दी।

अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे आगे शेयर करे। अपने किमती विचार कमेंट बाक्स मे लिखे

0 comments

Post a Comment