20 सितंबर, 2018

छुपे छुपे से रहते

rishte shayari in hindi
छुपे छुपे से रहते हैं..
सरेआम नहीं हुआ करते ,
कुछ रिश्ते बस एहसास होते हैं
उनके नाम नहीं हुआ करते  !!

0 टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें