05 फ़रवरी, 2018

चलो आज

चलो आज - Love Shayari
चलो आज खामोश प्यार को इक नाम दे दें,
अपनी मुहब्बत को इक प्यारा अंज़ाम दे दें
इससे पहले कहीं रूठ न जाएँ मौसम अपने
धड़कते हुए अरमानों एक सुरमई शाम दे दें !

0 टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें