21 नवंबर, 2017

किसी और की

Hindi Shayari - किसी और की
किसी और की बाहों में रहकर,
वो हम से वफा की बात करते हैं...!!!!
ये कैसी चाहत है यारों...?
वो बेवफा है जानकर भी,
हम उन्हीं से ही प्यार करते हैं....

0 टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें