21 March, 2017

इश्क़ करना - Ishq Karna

Love Hindi Shayari

इश्क़ करना इबादत से कुछ कम नहीँ है,
छोड़ मझधार में जाओ तो भी गम नहीं है,
दिल में बेइंतिहा गहरे जख्म दिए हें तुमने,
उन्हें भरने के लिए वक़्त का मरहम नहीं है।

0 comments

Post a Comment