13 नवंबर, 2016

हँसना और हँसाना - Shayari about My Style

हँसना और हँसाना - Shayari in My Style
हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी ,
हर कोई खुश रहे, यह चाहत है मेरी ,
भले ही मुझे कोई याद करे या ना करे ,
लेकिन ...
हर अपने को याद करना ये आदत हैं मेरी ॥

0 टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें