परिंदे रुक मत - Motivational Hindi Shayari

Motivational Hindi Shayari
परिंदे रुक मत तुझमे जान बाकी है,
मन्जिल दूर है, बहुत उड़ान बाकी है।
आज या कल मुट्ठी में होगी दुनियाँ,
लक्ष्य पर अगर तेरा ध्यान बाकी है।
यूँ ही नहीं मिलती रब की मेहरबानी,
एक से बढ़कर एक इम्तेहान बाकी है।
जिंदगी की जंग में है हौसला जरुरी,
जीतने के लिए सारा जहान बाकी है।

Comments

Post a Comment

Popular Posts