10 October, 2016

मंजिल मिले - Hindi Life Shayari

मंजिल मिले - Hindi Life Shayari
मंजिल मिले ना मिले
  ये तो मुकदर की बात है!
हम कोशिश भी ना करे
  ये तो गलत बात है...
जिन्दगी जख्मो से भरी है,
  वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है एक दिन मौत से,
  फिलहाल  जिन्दगी जीना सीख लो..!!

0 comments

Post a Comment