24 October, 2016

ना पूछ - Bewafa Shayari

Bewafa Shayari in Hindi
ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक हैं,
  तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक हैं...
वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
  हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक हैं...!!

0 comments

Post a Comment