05 August, 2016

भीगी हैं पलके - Love Shayari

भीगी हैं पलके - Love Shayari for you in hindi
आज भीगी हैं पलके एक फरियाद मे,
अश्क भी सिमट गया हे अपने आप मे,
ओंस की बूंदे ऐसे बिखरी है पत्तो पर,
मानो चाँद भी रोया हो किसी की याद मे..!

0 comments

Post a Comment