08 March, 2016

तुमनें हमेशा - I Miss You Shayari

तुमनें हमेशा सब, हंसी में उड़ा दिया
जो कुछ भी कहा मैनें, तुमनें सब भुला दिया
पर मेरी आंखों का, क्या कसूर था जो
जब भी आंखों नें तुम्हे देखा, तुमनें इन्हें रूला दिया.

0 comments

Post a Comment