20 February, 2016

जुगनुओं की - Life Shayari

जुगनुओं की रोशनी से तीरगी हटती नहीं,
आइने की सादगी से झूठ की पटती नहीं,
ज़िंदगी में गम नहीं फिर ज़िंदगी में क्या मजा ,
सिर्फ खुशियों के सहारे ज़िंदगी कटती नहीं...

0 comments

Post a Comment