05 October, 2015

न मिले किसी का

न मिले किसी का साथ तो हमें याद करना,
तन्हाई महसूस हो तो हमें याद करना....,
खुशियाँ बाटने के लियें दोस्त हजारो रखना,
जब ग़म बांटना हो तो हमें याद करना..