Posts

Showing posts from September, 2015

मेरे दिल की दुनिया

मुझे नहीं चाहिए मोटर साइकिल

हद-ए-शहर से

कितनी चूड़ियां हैं?

मिलजुल कर क्यों न रहें

तकदीर लिखने वाले

बिना निष्कर्ष

इंडिया का मच्छर

न माँग कुछ

जख्म बन जाने की - Love Shayari

कमीज के बटन ऊपर नीचे

हर पल में खुश हुँ

कौन कहता है

Na Socha Na Samjha