10 May, 2015

Sabse Alag - Dosti Shayari

Sabse Alag - Dosti Shayari
सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप,
तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप,
आज पता चला कि जमाना क्यों जलता है हमसे,
क्यों कि दोस्त तो आखिर हमारे हो आप…

3 comments:

  1. मै तो जुगनू हु जहा चाहो वहा साथ रखो
    मै वो सुरज नही हू रात को ढलने वाला ॥




    hello friends here you can read Hindi Shayari. and Urdu Shayari

    if you want read romantic shayari Click Here.

    ReplyDelete