19 May, 2015

Aankho Ke Raste - Love Shayari

Aankho Ke Raste - Love Shayari
आँखो के रास्ते से दिल में उतर गये हो,
खुशबु की तरह आँगन-आँगन बिखर गए हो,
तेरा जिस्म जब से नजरो ने छू लिया है,
तुम भी निखर गये हो, हम भी निखर गए हैं।। 

1 comments: