15 जनवरी, 2015

Dur Ho Kis Liye - Love Shayari

दूर हो किसलिये आ जाओ मेरी बाँहो में ।
हम भी खोये है खो जाओ मेरे ख्वाबों में ।।
डाल कर आँखों में आँखें जी भर पी ।।
सारी दुनियां की मस्ती है मेरी आँखों में ।।

3 टिप्पणियाँ:

  1. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. Call Urdu shayri as Urdu ,in Hindi it is kavita.
    Let them keep their distinct identities.

    उत्तर देंहटाएं
  3. Call Urdu shayri as Urdu ,in Hindi it is kavita.
    Let them keep their distinct identities.

    उत्तर देंहटाएं