28 November, 2014

Taras Gaye Aapke Didar Ko - Hindi Shayari for You

तरस गए आपके दिदार को ।
फिर भी दिल आप ही को याद करता है ।
हमसे खुश नसिब तो आपके घर का आईना है ।
जो हर रोज आपके हुस्न का दिदार करता है ।

0 comments

Post a Comment