17 November, 2014

Kisi Ne Kaha Ki - My Love Shayari For You

किसी ने कहाँ की इस दिल में अनजान बनके आया करो,
किसी को भी शक नो हो इसलिए बिना दस्तक के आया करो,
मैं कहता हूँ तुझे ही तो बक्शी है इस दिल की हुकूमत,
ये तेरी सल्तनत है तूम तो बेख़ौफ़ होकर आया करो ……!!

0 comments

Post a Comment