Sanso Ki Har Sargm Mein - Love Shayari




सांन्सो की हर सरगम मे तूम सूर बनकर बस गये..।
दील की हर धडकन मे तूम ऐक गूंन्ज बनकर बस गये.।
समज ना शके तूम न समज शके कूछ हम भी,
दील मे तो बसे ही थे रूह मे भी मेरी तूम बस गये.।।

Comments

  1. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://www.guruofmovie.com

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular Posts