Saat Samandar Se Jayada - Love Shayari in Hindi

सात समन्दर से ज्यादा खारा पानी रखता हूँ,
सुन यार मेरे मैं अपने जीने के मानी रखता हूँ..
हर पल भीगे रहते हैं मेरी पलकों के किनारे,
दिल में एक से बढ़कर एक कहानी रखता हूँ..
मेरे चमकते चेहरे ने चुगली कर ही दी तो सुनो,
अरे हाँ भई हाँ मैं भी दिलवर जानी रखता हूँ..
बड़ा मजा आता है ‘उससे’ दुनियादारी समझने में,
कई डिग्रियों के बावजूद खुद को अज्ञानी रखता हूँ..
कजरा, गजरा, झुमका, ठुमका और जिंदा,
अपनी जानेमन की मैं ढेरों निशानी रखता हूँ..

Comments

  1. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://www.guruofmovie.com

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular Posts