09 April, 2014

Payar Mohobat Wafa Ki Batein - Hindi Shayari

प्यार मुहब्बत वफ़ा की बातें रहने दो बस रहने दो.
 देश प्रेम और सच्चाई की बातें रहने दो बस रहने दो.
कुछ हैं सेवक कुछ नेता गण हैं सारे बनते हैं महानायक.
 आज़ादी की लड़ाई की बातें रहने दो बस रहने दो.
झूठी तसल्ली दे कर सबको भ्रम में डाला छीना निवाला.
 बढ़ती इस मंहगाई की बातें रहने दो बस रहने दो.
कोई देता मंदिर में दान कोई गाता धर्म करम के गान .
 मांगते मासूमों की पिटाई की बातें रहने दो बस रहने दो .
सत्ता धारी और साधू संत सब हैं एक खेत के धान.
 साधू से बने नेता की बातें रहने दो बस रहने दो.
मै क्या मांगू मुझे क्या दोगे और मुझको क्या दे सकते हो.
 ये झूठी हमदर्दाई की बातें रहने दो बस रहने दो ......

1 comments: