12 February, 2014

Ek Koshish Aur Kar

एक कोशिश और कर, बैठ न तू हार कर,
तू है पुजारी कर्म का, थोडा तो इंतजार कर,
विश्वास को दृढ बना, संकल्प को कृत बना,
एक कोशिश और कर, बैठ ना तू हार कर..।।

2 comments:

  1. Koshish ka sira kashish se door nahi .. shuruwat ke chan shabdon ka pher hai ... shsih hamasha ant hai.. shish se shesh ... shesh se awashesh.... phir se shuruwaat ka ant hai .. yehi anant hai

    ReplyDelete
  2. जाने भारत की सबसे खूबसूरत अदाकारा के बारे में एक क्लिक पर
    http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete