30 October, 2013

Respect your Soldier - Kabhi Thand Me Thithur Kar Dekh Lena

Respect your Soldier - Kabhi Thand Me Thithur Kar Dekh Lena
कभी ठंड में ठिठुर के देख लेना
कभी तपती धूप में जल के देख लेना
कैसे होती है हिफाज़त मुल्क की
कभी सरहद पर चल के देख लेना
कभी दिल को पत्थर करके देख लेना
कभी अपने जज्बातों को मार के देख लेना
कैसे याद करते है मुझे मेरे अपने
कभी अपनों से दूर रहकर देख लेना
कभी वतन के लिए सोच के देख लेना
...कभी माँ के चरण चूम के देख लेना
कितना मज़ा आता है मरने में यारो
कभी मुल्क के लिए मरके देख लेना
कभी सनम को छोड़ के देख लेना
कभी शहीदों को याद करके देख लेना
कोई महबूब नहीं है वतन जैसा यारो
मेरी तरह देश से कभी इश्क करके देख लेना
मेरी तरह देश से कभी इश्क करके देख लेना !!

13 comments:

  1. I LOVE THIS BLOG AND ALSO ANOTHER BLOG WHICH ADDRESS IS www.guruofmovie.blogspot.in

    ReplyDelete
  2. Interesting Love Shayari shared by you ever. Being in love is, perhaps, the most fascinating aspect anyone can experience.

    ReplyDelete
  3. Vvvvvvvvvvvvvvv vgood

    ReplyDelete
  4. yaar so nice message for our army
    i salute indian army jay hind

    ReplyDelete
  5. yu chahne wale tumhe kuch kam na milenge
    mil jayenge hum jese magar hum na milenge

    ReplyDelete
  6. So sweet sahi he boss

    ReplyDelete
  7. पाकिस्तान ये कान खोलकर सुन ले, अबकी जंग छिड़ी तो यह सुन ले,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा ! हम डरते नहीं किसी अणु-बमों से, विस्फोटों और तोपों से,
    हम डरते है ताशकंद और शिमला जैसे समझौतों से,
    सियार-भेडियों से डर सकती सिहों की ऐसी औलाद नहीं,
    भरतवंश के इस पानी की है तुमको पहचान नहीं,
    एटम बनाकर के तुम किस मद में फूल गए,
    पैसठ, इकहत्तर और निन्यानवे के युद्धों को तुम भूल गए,
    तुम याद करो अब्दुल हमीद ने पैटर्न टैंक जला डाला,
    हिन्दुस्तानी नेटो ने अमरीकी जेट जला डाला,
    तुम याद करो नब्बे हजार उन बंदी पाक जवानों को,
    तुम याद करो शिमला समझौता इंदिरा के एहसानों को,
    पाकिस्तान ये कान खोलकर सुन ले, अबकी जंग छिड़ी तो यह सुन ले,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा!

    लाल कर दिया लहू से तुमने श्रीनगर की घाटी को,
    तुम किस गफलत में छेड़ रहे सोई हल्दी घाटी को,
    जहर पिलाकर मजहब का इन कश्मीरी परवानों को,
    भय और लालच दिखलाकर तुम भेज रहे नादानों को,
    खुले प्रशिक्षण, खुले शस्त्र है खुली हुई शैतानी है,
    सारी दुनिया जान चुकी ये हरकत पाकिस्तानी है,
    बहुत हो चुकी मक्कारी, बस बहुत हो चुका हस्तक्षेप,
    समझा ले अपने इस नेता को वरना भभक पड़ेगा पूरा देश,
    क्या होगा अंजाम तुम्‍हे अब इसका अनुमान नहीं होगा,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा!

    ReplyDelete
  8. पाकिस्तान ये कान खोलकर सुन ले, अबकी जंग छिड़ी तो यह सुन ले,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा ! हम डरते नहीं किसी अणु-बमों से, विस्फोटों और तोपों से,
    हम डरते है ताशकंद और शिमला जैसे समझौतों से,
    सियार-भेडियों से डर सकती सिहों की ऐसी औलाद नहीं,
    भरतवंश के इस पानी की है तुमको पहचान नहीं,
    एटम बनाकर के तुम किस मद में फूल गए,
    पैसठ, इकहत्तर और निन्यानवे के युद्धों को तुम भूल गए,
    तुम याद करो अब्दुल हमीद ने पैटर्न टैंक जला डाला,
    हिन्दुस्तानी नेटो ने अमरीकी जेट जला डाला,
    तुम याद करो नब्बे हजार उन बंदी पाक जवानों को,
    तुम याद करो शिमला समझौता इंदिरा के एहसानों को,
    पाकिस्तान ये कान खोलकर सुन ले, अबकी जंग छिड़ी तो यह सुन ले,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा!

    लाल कर दिया लहू से तुमने श्रीनगर की घाटी को,
    तुम किस गफलत में छेड़ रहे सोई हल्दी घाटी को,
    जहर पिलाकर मजहब का इन कश्मीरी परवानों को,
    भय और लालच दिखलाकर तुम भेज रहे नादानों को,
    खुले प्रशिक्षण, खुले शस्त्र है खुली हुई शैतानी है,
    सारी दुनिया जान चुकी ये हरकत पाकिस्तानी है,
    बहुत हो चुकी मक्कारी, बस बहुत हो चुका हस्तक्षेप,
    समझा ले अपने इस नेता को वरना भभक पड़ेगा पूरा देश,
    क्या होगा अंजाम तुम्‍हे अब इसका अनुमान नहीं होगा,
    नाम निशान नहीं होगा, कश्मीर तो होगा लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा!

    ReplyDelete
  9. पाकिस्तान जितना बारूद तेरे देश मेँ है,
    उससे तीन गुना ज्यादा बारूद हम भारतीय
    दीवाली की रात जला देते हैं..!!
    यह है भारत देश यहां के हिन्दु बड़े निराले है,
    कुछ है, श्री राम के भक्त कुछ बाबर के साले है..!!
    लश्कर की सेना मे जितने दाढ़ी वाले है,
    उससे ज्यादा हरिद्वार मे माला कंठी वाले है,
    पाकिस्तान मे जितने घर है, उतने यहां शिवालय
    है !!
    2 देशो को एक ही समय 1947 को आजादी
    मिली..!
    एक मंगल पे पहुँच गया और दूसरा अभी भी भारत में
    घुसने कि तरकीबें सोच रहा..!!
    पाकिस्तानी बोलते है कि हम हिंदुओ को
    जिंदा जला देंगे ..!
    उन के लिए 2 लाईन पेश कर रहा हु......
    "जलते हुए दिए को परवाने क्या बुझायेंगे,
    जो मुर्दों को नही जलाते वो जिन्दो को
    क्या जलाएंगे,
    ना हम शैतान से हारे, ना हम हैवान से हारे,
    कश्मीर में जो आया तूफान, ना हम उस तूफान से
    हारे,
    यही सोच कर ऐ पाकिस्तान, हमने तेरी जान
    बक्शी है,
    शिकारी तो हम है मगर, हमने कभी कुत्ते
    नहीं मारे..??
    ******** वन्देमातरम ********
    jay hind jago indian jago

    ReplyDelete
  10. Jai Hind. . . Saluate to every Soldier of India.

    ReplyDelete