04 September, 2013

Na Kar Gumma - Zindgi ki Shayari

न कर गुमां बन्दे तूँ, अपने हुस्न ओ जवानी का,
तेरी जिंदगी क्या, फक्त एक बुलबुला है पानी का।

ये तेरी चन्दन सी देह भी, माटी में मिल जायेगी,
सब यहीं रह जायेगा, बस तेर नेकी साथ जायेगी।

3 comments:

  1. Apno Ne Pyar Me Rula Diya,
    .
    Kya Hua Jo Kisi Aur Ke Liye Hume Bhula Diya,

    Hum To Waise B Akele The,
    .
    Kya Hua Jo Aapne Ye Ehsaas Dila Diya…

    +++++++++++++++++++++++++++++++++++++++


    Zindgi Ka Har Zakham Uski Mehrbani Hai;
    Meri Zindgi To Ek Adhuri Kahani Hai;
    Mita Deta Har Dard Ko Magar;
    Ye Dard Hi To Uski Aakhri Nishani Ha!

    ++++++++++++++++++++++++++++++++++++++

    क्या हुआ जो उसने रचा ली मेहँदी,

    हम भी अब सेहरा सजायेंगे,

    तो क्या हुआ अगर वो हमारे नसीब में नहीं,

    अब हम उसकी छोटी बहन पटायेंगे

    ReplyDelete
  2. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete