11 January, 2013

कुछ तबियत - Kuch Tabiyat

Hindi Love Shayari - Kuch Tabiyat
कुछ तबियत ही मिली थी ऐसी
चैन से जीने की सूरत न हुई
जिसे चाहा उसे अपना न सके
जो मिला उस से मुहब्बत न हुई.

Kuch tabiyat hi mili thi aisi,
Chainn se jeene ki surat na hui,
Jise chaha usse apnaa na sake,
Jo mila uss se mohobat na hui.


1 comments:

  1. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete