Skip to main content

Featured

Uski Masrufiyat Mera Intzaar

सब उसकी., मसरूफियत में शामिल हैं...!! बस एक ., मुझ  बे-ज़रूरी के सिवा.....!! #Uski Masrufiyat 

वो समझे ना - Wo Samjhe Na

Hindi Shayari, Sad Shayari
वो समझे ना समझे हमारे जज़बात को,
हम मानेगे उनकी हर बात को..
हम चले जाऐंगे एक दिन इस दुनियाँ को छोडकर,
वो आँसुओं से रोऐंगे हर रात को..

Wo samjhe na samjhe hamare jazbaat ko,
Hum maanenge unki har baat ko,
Hum chale jaayenge ek din is duniya ko chodkar,
Wo aasuon se royenge har raat ko........

Comments

  1. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular Posts