19 September, 2012

इस दुनियाँ - Iss Duniya

Iss Duniya - Love Shayari
इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है,
 फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती?
मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर,
 बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती..

Iss Duniya Mein Sab Kuch Bikta Hai,
 Phir Judai Hi Rishwat Kyun Nahi Leti?
Marta Nahi Hai Koi Kisi Se Juda Hokar,
 Bus Yaadein Hi Hai Jo Jeene Nahi Deti.


3 comments:

  1. Hello dost, i like your shayaris very much.

    ReplyDelete
  2. hai
    dosto sayri is a verry good passion .

    ReplyDelete
  3. आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete