13 July, 2012

वो आऐ - Wo aaye

| |
Hindi Shayari, Love Shayari
वो आऐ मेरी जिन्दगी में कहानी बनकर ,
 इस दिल में रहे प्यार की निशानी बन कर,
अकसर जिन्हें हम जगह देते है इस दिल में,
 वो आँखों से निकल जाते है पानी बन कर..

Wo aaye meri zindagi mein kahani ban kar,
 Is dil mein rahe pyar ki nishaani ban kar,
Aksar jinhey hum jagah dete hai is dil mein,
 wo aankho se nikal jaate hai paani ban kar...


4 comments:

Nice lines.....

आप के ब्लॉग की जितनी भी तारीफ की जाए कम है देखे भारतीय सिनेमा की हर खबर एक क्लिक पर http://guruofmovie.blogspot.in/

Post a Comment