Skip to main content

Featured

Uski Masrufiyat Mera Intzaar

सब उसकी., मसरूफियत में शामिल हैं...!! बस एक ., मुझ  बे-ज़रूरी के सिवा.....!! #Uski Masrufiyat 

Har Mulaqat Par - हर मुलाकात पर

Hindi Shayari, Sad Shayari
हर मुलाकात पर वक्त का तकाज़ा हुआ..
 हर याद पे दिल का दर्द ताजा हुआ..
सुनी थी सिर्फ हमने गज़लों मे जुदाई की बातें..
 अब खुद पे बीती तो हकीकत का अंदाजा हुआ.



Har Mulaqat Pr Waqt Ka Takaza Hua...
 Hr Yaad Pe Dil Ka Dard Taza Hua.....
Suni Thi Sirf humne Gazlon Me Judai Ki Baaten ..
 Ab Khud Pe Beete To Haqiqat Ka Andaza Hua

Comments

  1. देखे दुनिया के सबसे बेहतरीन ब्लॉग में से एक ब्लॉग http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular Posts