15 December, 2011

चाँदनी रातों में

चाँदनी रातों में कुछ भीगे ख्यालों की तरह,
  मैने चाहा है तुम्हें दिन के उजालों की तरह,
गुजरे थे जो कुछ लम्हें तुम्हारे साथ,
  मेरी यादों में चमकते हैं वो सितारों की तरह


Chandani Rato Me Kuch Bheege khayalo Ki Tarah
  Mene Chaha Hai Tumhe Din ke Ujalon Ki Tarah
Guzre The Jo Kuch Lamhe Tumhare Sath
  Meri Yaado Me Chamakte Hai Wo Sitaron Ki Tarah