24 April, 2010

दोस्त होते है ऐसे

दोस्त होते है ऐसे

दीयो के लीये बाती जैसे

अन्धो के लीये लाठी जैसे

प्यासे के लीये पानी जैसे

बच्चे के लीये नानी जैसे

लेखक के लीये कलम जैसे

बीमार के लीये मलम जैसे

0 comments

Post a Comment