02 April, 2010

जो कुछ भी मिला है


जो कुछ भी मिला है उसी में खुश हुँ...

मै तेरे लिए खुदा से तकरार नही करता..

पर कुछ तो बात है तेरी फितरत में ज़ालिम..

वरना तुझे चाहने की खता बार-बार नही करता..


One of the best day of my life...****