01 February, 2010

पलकों को झुका कर




पलकों को झुका कर सलाम करते है..

दिल की हर दुआ आपके नाम करते हैं..

कबूल हो तो मुस्कुरा देना..

आपकी एक मुस्कुराहट पर फिदा हम जान करते हैं..

1 comments: