24 December, 2009

तेरी साँसों मे बसी खुशबु



तेरी साँसों मे बसी खुशबु का ऐहसास है मुझे,
वो बीते हुए सारे कल भी याद हैं मुझे..!!

वो उलझी हुई लटों को सुलझाना ओर..
.... शर्म से आँखे झुकाना याद है मुझे..!!

वो प्यार से महोब्बत का इंतजार तेरा, याद है मुझे,
तेरे साथ बिताया हर लम्हा याद है मुझे..!!

ऐ खुदा.. मेरे नसीब मे इस परी को लिख दे..!!
ऐ खुदा.. मेरे नसीब मे इस परी को लिख दे..!!
तेरी ईबादत का हर तरीका याद है मुझे..

0 comments

Post a Comment