Skip to main content

Featured

तेरे दर पर

तेरे दर तक आ पहुंचे हम….!! अपना पीछा करते-करते….!!

हर खुशी दिल के



हर खुशी दिल के करीब नहीं होती,

ज़िन्दगी गमो से दूर नहीं होती,

ऐ दोस्त मेरी दोस्ती को संभल कर रख,

हमारी दोस्ती हर किसी को नसीब नहीं होती...


Comments

Post a Comment

Popular Posts