11 July, 2009

दुरी का ऐहसास

तुम से दुरी का ऐहसास जब सताने लगा,

तेरे साथ गुजारा हर लमहा याद आने लगा,

जब भी तुम्हे भुलने की कोशिश की,

ऐ दोस्त... तु दिल के और पास आने लगा ।


0 comments

Post a Comment