15 June, 2009

बहते अश्को की

*** बहते अश्को की ज़ुबान नही होती,
लफ़्ज़ों मे मोहब्बत बयां नही होती,
*** मिले जो प्यार तो कदर करना,
किस्मत हर कीसी पर मेहरबां नही होती.

0 comments

Post a Comment