14 अगस्त, 2018

तिरंगे से खूबसूरत

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता, नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई, मगर तिरंगे से खूबसू...

विधाता की अदालत

विधाता की अदालत में, वक़ालत बड़ी प्यारी है, ख़ामोश रहिये ..कर्म कीजिये.. आपका मुकदमा ज़ारी है।  

03 अगस्त, 2018

दुआ शब्द पर शायरी

'दुआ' शब्द पर बेहतरीन शायरी संग्रह। उम्मीद है आपको पसंद आऐगा । दुवा‬ करो वो मुझको मिल जाए यारो... ‪सुना‬ है ‪दोस्तों‬ की ‪दुआ...

21 जुलाई, 2018

लोग जल जाते हैं

लोग जल जाते हैं मेरी मुस्कान पर क्योंकि मैंने कभी दर्द की नुमाइश नहीं की जिंदगी से जो मिला कबूल किया किसी चीज की फरमाइश नहीं की मु...

19 जुलाई, 2018

शिव शंकर भक्ति शायरी

शिव मेरी कामना, शिव हीं मेरा कर्म है, शिव ही मुझमे कठोर और शिव ही मुझमें मर्म है.. शिव मेरा जीवन और शिव ही मेरे विचार है, शिव मेरी कर...

16 जुलाई, 2018

सैल्फी स्पैशल शायरी

  सेल्फी लेते वक्त पेट को अन्दर खीचना कोई कला से कम नहीं होता कुछ लोग शादी -पार्टी में सिर्फ इसलिए जाते है ताकि सेल्फी निकाल कर F B ...

13 जुलाई, 2018

तेरी मोहब्बत तेरी वफ़ा

तेरी मोहब्बत तेरी वफ़ा.. तेरा इरादा तू जाने.. मैं करता हूँ सिर्फ और सिर्फ तुझसे ही मोहब्बत..  ये मेरा खुदा जाने..

09 जुलाई, 2018

तुझको देखा

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा .. चाँद कहता रह गया, मैं चाँद हूँ मैं चाँद हूँ..