20 March, 2019

रंगों की जात नहीं - Happy Holi

रंगों की ना होती कोई जात, वो तो लाते बस खुशियों की सौगात, हाथ से हाथ मिलाते चलो, होली है होली रंग लगाते चलो..

चलो घर चलते हैं..

आँखों में हमारे भी कुछ सपने पलते हैं, अब उनसे कुछ दिन बाद मिलते हैं, होली की छुट्टी आ गई यारो, सूनी गलियों में गुलाल बरसाने .. चलो घर...

होली आई रे - Happy Holi Kavita

फिर बचपन की याद दिलाने बैर  भाव को दूर भगाने जीवन में फिर रंग बढाने होली आई रे ... बूढ़े दादा भुला कर उम्र को दादी के गालों पर मलते ...

19 March, 2019

इश्क़ के रंग - Happy Holi

क़ाबिल-ए-तारीफ़ है, तेरी मोहब्बत भी...!! चंद मुलाक़ातें क्या कर ली,, इश्क़ के रंग में ही रंग गये....!!!

होली पर लव शायरी

उनके प्यारे से चेहरे पर... हम भी रंग लगा देते,, वो पास होते तो... हम भी होली मना लेते..!!

होली पर प्यारी भरी शायरी

कुछ रंग बिखरे हैं अल्फाज़ो में, कुछ रंग उड़ रहे एहसासो में, हर रंग आज छू कर तुम्हे…, घुल के समां रहे हैं मेरी सांसों में...!!

ज़िन्दगी में हो

ज़िन्दगी में हो के भी न ज़िन्दगी के हो सके दोस्त भी न रहे सके न दुश्मनों में हो सके रोशनाई के बिना लिखा है जो भी वास्ता खास भी न हो सका आम ...

13 March, 2019

घिर के आईं - Yaad Shayari

घिर के आईं हैं याद की बदरी आज मौसम रुलाएगा शायद साथ रहकर भी हम न मिल पाए हिज्र हमको मिलाएगा शायद। आज भी वक़्त पर न आया ,वो फिर बहाना बन...