16 November, 2018

तेरी दोस्ती - Bewafa Shayari

तेरी दोस्ती ने दिया सकूं इतना  की तेरे बाद कोई अच्छा न लगे  तुझे करनी है बेवफ़ाई तो इस अदा से कर  कि तेरे बाद कोई भी बेवफ़ा न लगे।

13 November, 2018

कहीं दिन उगा - Safar Shayari

कहीं दिन उगा तो कहीं रात हो गयी, कभी कुछ न बोले, कभी बात हो गयी, कहीं दूर तलक न साये दिखे, कहीं दूर सफर तक साथ हो गयी, कभी डरती डरती चली ...

क्यूँ किसी से - Love Shayari

क्यूँ किसी से इतना प्यार हो जाता है, एक दिन का भी इंतजार दुश्वार हो जाता है, लगने लगते है अपने भी पराए, जब एक अजनबी पर ऐतबार हो जाता है। ...

11 November, 2018

नजरों को - Intzaar Shayari

नजरों को तेरे प्यार से इंकार नहीं है, अब मुझे किसी और का इंतज़ार नहीं है, खामोश अगर हूँ मैं तो ये वजूद है मेरा तुम ये न समझना कि तुमसे प्य...

आसमान पे - Kanto Par Shayari

आसमान पे चाँद जल रहा होगा, किसी का दिल मचल रहा होगा, उफ़ ये मेरे पैरों में चुभन कैसी है, जरूर वो काँटों पर चल रहा होगा।

08 November, 2018

खता हो गयी - Khata Shayari

खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो, दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो, देर हो गयी याद करने में जरूर, लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा ...

माना कि - Dil Shayari

माना कि तुम जीते हो ज़माने के लिये, एक बार जी के तो देखो हमारे लिये, दिल की क्या औकात आपके सामने, हम तो जान भी दे देंगे आपको पाने के लिये...

03 November, 2018

बनाकर दीये - Diwali Shayari

बनाकर दीये मिट्टी के, ज़रा सी आस पाली है.... मेरी मेहनत ख़रीदो लोगों, मेरे घर भी दीवाली है....