मिलता ही किससे - Milta Hi Kisse

मिलता ही किस से जब कोई मुझे  अपनाता ही नही.
जो अपना था वो मझधार में है किनारा बनता ही नहीं
हर ख्वाब उसका बसाया था मैंने अपनी आंखों में
इंतज़ार आज भी है उसका पर वो आता ही नही

#SadShayari

Comments

Popular Posts