Posts

Showing posts from August, 2017

कहते हैं लोग..

हॉर्न धीरे बजाओ...

न जाने क्यों - Love Shayari

मजेदार चुटकलों का खजाना

मोहब्बत करने वालों का

सदा ही लहराता रहे

संस्कार और संस्कृति

मेरा कर्मा तू

मुकम्मल है इबादत

मोहब्बत की हद्द

हर मर्ज की दवा है माँ

दिल का हर दरवाज़ा

मेरी मोहब्बत से आज

मुहब्बत में क्यों वेब्फ़ाइ

अरमान कोई - लव शायरी

दिल में हो आप - लव शायरी

बेगानों से गुजर जाते

हमारी गलतियों से

सभी भाभीयो को समर्पित