28 January, 2016

Dard Bhari Hindi Shero-Shayari Collection

1)
दर्द को देखकर मुंह मोड़ना आसान नहीं,
अभी इंसान हूं मैं, कोई भगवान नहीं,
चीज दुनिया की उनको ही वापिस कर दी,
मेरे दिल में सिवा तेरे कोई सामान नहीं..
2)
वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
वो ख़ुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए,
कभी तो समझो मेरी ख़ामोशी को,
वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जाए!.

0 comments

Post a Comment